The Cry In Okinawa एक चीख – Horror Story In Hindi

The Cry In Okinawa यह बात वर्ष 2010 की जुलाई की है,मुझे ओकिनावा की ट्रिप पर जाना था ,यह जगह जापान के दक्षिण में किशोर कैथोलिक में स्थित थी और मेरे पिता को भी मेरे साथ इस यात्रा पर जाना था। (और हां, मैं कैथोलिक हूं, लेकिन मुझे धर्म से नहीं आंकना चाहिए ..)।

दोस्तों मैं आपको बता दूँ कि जापान में ओकिनावा उन स्थानों में से एक है, जिन्हें द्वितीय विश्व युद्ध के परिणामों का सामना करना पड़ा था, जब अमेरिकी सेना द्वारा हमला किया गया था। उसके कारण कई लोग मारे गये, जिनमें जापानी नागरिक, जापानी सेना और अमेरिकी सेना शामिल हैं।


दोस्तों, मेरी सहायता करे। आप Amazon Prime Video का Free Sign Up करे, मेरी दी गई Link से। अगर आप Horror Movies देखना पसंद करते है तो आप Sign Up कर सकते है। यह Sign Up बिलकुल Free है।

Sign Up Link


चूँकि मैंने ओकिनावा की कहानी के बारे में पहले से ही अध्ययन किया था, मुझे एक अजीब सा एहसास हुआ कि ओकिनावा के दर्शन करने से पहले मेरे साथ कुछ spiritual या “आध्यात्मिक” होगा, ओकिनावा उन स्थानों में से एक है जो अमेरिकी सेना का base भी है।

मेरा मानना ​​है कि यह यात्रा का दूसरे दिन था। हम एक लोकल गाइड द्वारा GAMA नामक एक भूमिगत निर्मित गुफा अंडरग्राउंड-मेड केव में गये, इस गुफा का उपयोग हवाई बमबारी होने पर स्थानीय लोगों की शरण स्थली के रूप में किया गया था और एक बात कि कम स्वच्छता के कारण, कई लोग वहां मारे भी गये , जैसे कि बच्चे, महिलाएं, बुजुर्ग और यहां तक ​​कि बीमार या घायल लोग (that’s not all: यहां तक ​​ही नहीं जापानी सेना ने तो नागरिकों से यह भी कह दिया कि “जब अमेरिकी सैनिक आपके पास आये, तो इससे पहले कि वे आपको मारे।” आप अपने आप को मार डाले। अपने गौरव के लिए मरो, जापान के लिए मरो! “)।

बारिश और बहुत अंधेरा होने के कारण गुफा फिसलन भरी थी … या मुझे कहना चाहिए: pure dark ,बिलकुल अँधेरा। इसके कारण, हमें हाथो में Handlights के साथ चलना पड़ा। जब हम आगे बढ़ रहे थे ,तो हमारे पास थोड़ा समय था यह देखने का कि यह कितनी अँधेरी है। मेरा मतलब उस गुफा से था। गुफा भी ठंडी होने की बजाय काफी सर्द थी।

कुछ सेकंड बाद, मैंने गुफा में एक महिला के रोने की आवाज़ सुनी, लेकिन मैंने देखा है कि हमारे साथ जो लड़किया थी यह उनकी आवाज़ नहीं थी (केवल दो लड़कियां हमारे साथ थी)। और फिर मैं खुद से सोचने लगा कि “यह किसी जिन्दा इंसान की तो आवाज नहीं है…”।

थोड़ी देर बाद , हम गुफा से बाहर चले गये। और Confirm करने के लिए, मैंने उन लड़कियों से पूछा कि क्या उनमें से कोई रो रही थी क्या, लेकिन उनका जवाब था: “हम में से कोई भी नहीं रोया …”(और मैंने लड़कों से भी पूछा, लेकिन उनका भी वही जवाब था…)

मैं इस बात से आश्चर्यचकित हूँ कि जो रोने वाली औरत थी, उसकी आत्मा मुझसे या हमसे क्या कहना चाहती थी?

पढ़ने के लिए धन्यवाद।

दोस्तों, मैं आशा करता हूँ कि आपको “The Cry In Okinawa एक चीख” शीर्षक वाली यह Real Horror Story पसंद आई होगी। ऐसी और भी Real Ghost Stories In Hindi में सुनने के लिये, हमारे ब्लॉग Horrorstoryhindi.com पर बने रहे। यदि आप YouTube पर Ghost Stories सुनना पसंद करते है तो मेरे YouTube ChannelCreepy Content” को सब्सक्राइब कर ले।

धन्यवाद!

Leave a Comment