ब्रह्मराक्षस (Brahmarakshas Hindi) – Horror StoryHindi.Com

ब्रह्मराक्षस (Brahmarakshas In Hindi)

हिन्दू धर्म में मृत आत्माओं को अपने कर्मों के अनुसार कई भागों में विभाजित किया गया है जैसे भूत, प्रेत, पिशाच और ब्रह्मराक्षस

इन्ही में से एक ब्रह्मराक्षस नामक आत्मा है। ब्रह्मराक्षस, यह नाम दो शब्दों से मिलकर बना है, पहला ब्रह्म जिसका मतलब ब्राहण (पुजारी) और दूसरा राक्षस जिसका मतलब शैतान। ब्रह्मराक्षस वह आत्मा होती है, जिसमे ब्राह्मण और राक्षस दोनों के ही गुण होते है।

ब्राह्मण या कोई ज्ञानी व्यक्ति जब अकाल मृत्यु को प्राप्त हो जाता है , तो ऐसे में वो एक ब्रह्मराक्षस बन जाता है। ऐसे व्यक्ति जो उच्च ज्ञानी होकर भी अपने ज्ञान का गलत उपयोग करते है, तो वे ब्रह्मराक्षस बन जाते है। ऐसे में वो व्यक्ति काफी शक्तिशाली बन जाता है।

कहा जाता है कि ब्रह्मराक्षस ताकत होती है, जिससे छूट पाना काफी मुश्किल होता है।

अगर कोई व्यक्ति इनके शिकंजे में आ जाता है तो वो व्यक्ति तब ही छूटता है, जब इनका मन हो।

इनके ऊपर सभी तंत्र और मंत्र बेकार साबित होते है। अगर कोई तांत्रिक इनसे जोर-जबरदस्ती करता है तो ऐसे में उसका विनाश होना तय होता है। ब्रह्मराक्षस से केवल वह व्यक्ति बच सकते हैं जो नियमित रूप से भगवान का पाठ करते हैं और मंदिर जाते हैं। भगवन में पूर्ण रूप से आस्था रखने वाले ही इनसे बच पाते है। इस क्रिया को “भागमती विद्या” के नाम से जाना जाता है।

अगर इनके आसपास होली गीता का पाठ किया जाये तो ऐसे में इनको मुक्ति मिल सकती है। भारत के दक्षिण में महाराष्ट्र और केरला में ब्रह्मराक्षस की मूर्तियाँ और मंदिर देखे जा सकते है।

So I hope Guys आपको यह Horror Stories अच्छी लगी होगी।

पढ़ने के लिए धन्यवाद।

दोस्तों, मैं आशा करता हूँ कि आपको “ब्रह्मराक्षस (Brahmarakshas Hindi)” शीर्षक वाली यह Real Horror Story पसंद आई होगी। ऐसी और भी Real Ghost Stories In Hindi में सुनने के लिये, हमारे ब्लॉग Horrorstoryhindi.com पर बने रहे। यदि आप YouTube पर Ghost Stories सुनना पसंद करते है तो मेरे YouTube ChannelCreepy Content” को सब्सक्राइब कर ले।

धन्यवाद!

Leave a Comment